Friday, August 6, 2010

नारंग की नाराजगी

लंदन ओलंपिक तो दूर है...मुझमें अब इतना भी motivation नहीं की मैं rifle उठा सकूं..
ये दर्द है वर्ल्ड रैंकिंग में number 2 शूटर...वर्ल्ड चैंपियनशिप 2010 में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाले... और 2012 लंदन ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने वाले पहले भारतीय...
शूटर गगन नारंग का...
देश के सबसे बड़े खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड के लिए न चुने जाने से...नारंग काफी आहत हैं...और देश के लिए लगातार शानदार प्रदर्शन करने वाले गगन नारंग अपनी उपेक्षा से काफी निराश है...
इसके पहले भी नारंग ने राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड के सलेक्शन प्रोसेस पर सवाल उठाए थे। और इसमें लगातार तीन बार न चुने जाने से अपनी नाखुशी इसलिए भी जाहिर की क्योंकि देश से मिलने वाले awards और medals खिलाड़ियों के प्रेरणास्रोत होते है... हालांकि कॉमनवेल्थ गेम्स में participation के बारे में उन्होनें फैसला नहीं किया है,,
क्योंकि ट्रेनिंग, वर्ल्ड चैंपियनशिप और लंबे सफर के बाद वो ब्रेक लेने के की सोच रहे हैं...लेकिन अगर देश के खिलाड़ी ही निराशा के दौर से गुजरेंगे... तो ये भारत की मेडल की उम्मीदों के लिए करारा झटका भी हो सकता है।

No comments:

Post a Comment