Wednesday, August 4, 2010

'रियल जेन्टलमैन'

टीम इंडिया का जम्बो...यानि पूर्व कप्तान अनिल कुंबले रिटायरमेंट के बाद एक बार फिर वापसी करने जा रहे हैं.... लेकिन इस बार जम्बो का रोल बतौर क्रिकेटर नहीं...बल्कि बतौर कोच होगा... बीसीसीआई ये चाहता है...कि कुंबले टीम इंडिया के खिलाड़ियों को मैदान के अंदर और बाहर सही बर्ताव करना सिखाएं.... सूत्रों की मानें तो इसके लिए बोर्ड ने बकायदा अनिल कुंबले से संपर्क साधा....और उनके EDUCATIONAL PROGRAMME के तहत खिलाड़ियों के लिए PERSONALITY DEVELOPMENT PROGRAMME को अपनाने की बात कही..
अनिल कुंबले के प्रोग्राम के तहत...
खिलाड़ियों को मैदान के बाहर और अंदर व्यवहार में सुधार करना सिखाया जाएगा...
करोड़ों में खेलने वाले खिलाड़ी खुद पर कैसे CONTROL करें...इसकी भी जानकारी दी जाएगी..
ड्रेसिंग रूम में कैसा माहौल रखा जाए...इसके बारे में बताया जाएगा...
अचानक मिलने वाली कामयाबी को कैसे DIGEST किया जाए...इसे भी सिखाया जाएगा.....
प्रोग्राम के तहत खिलाड़ी कैसे अंग्रेजी बोलें..ये भी सिखाया जाएगा...

मिल रही जानकारी के मुताबिक कुंबले ने इसके लिए बकायदा बीसीसीआई अधिकारियों को एक PRESENTATION भी दिया था... जिसके बाद पिछले हफ्ते बोर्ड की वर्किंग कमेटी की मीटिंग में इसके बारे में सोच-विचार किया गया... हालांकि, बीसीसीआई कुंबले के PRESENTATION से खुश तो है...लेकिन एक और PRESENTATION का इंतज़ार कर रही है...जिसके बाद इस बारे में कोई आखिरी फैसला लिया जाएगा... हालांकि, सूत्रों के मुताबिक बीसीसीआई ने कुंबले के PROGRAMME को हरी झंडी दे दी है....और जम्बो को हर खिलाड़ी को ट्रेनिंग देने के एवज में बीसीसीआई करीब 2.9 लाख रूपए की रकम भी अदा करेगी... ज़ाहिर है....अगर बोर्ड ने कुंबले के प्रोग्राम को अपनाया...तो आने वाले समय में कुंबले की ही तरह..टीम इंडिया के बिगड़ैल क्रिकेटर्स जेन्टलमैन गेम के जेन्टलमैन खिलाड़ी की तरह नज़र आएंगे।

No comments:

Post a Comment